Scam 1992 The Harshad Mehta Story  दरअसल यह एक movie नहीं एक web series है जिसमे 50-50 minute के 9 एपिसोड है, लेकिन अगर आप stock market से रिलेटेड movie खोज रहे हैं तो आपको इसे अवस्य देखना चाहिय | कैसे हुआ था भारत का सबसे बड़ा बैंक घोटाला, ये है रिस्क से इश्क करने वाले हर्षद मेहता की कहानी

क्यों देखें ? शानदार कांसेप्ट, उम्दा कलाकार, धाकड़ एपिसोड्स, दबंग कहानी। हंसल मेहता, हर्षद मेहता की कहानी लेकर आये हैं। दलाल स्ट्रीट का चीता, बेताज बादशाह, व्यापार का अमिताभ बच्चन कहा जाने वाले हर्षद मेहता ने वर्ष 1992 में सबके होश उड़ा दिए थे।

Raging bull के नाम से विख्यात हर्षद ने अपने कारनामे से बड़े-बड़े व्यापारियों की नींद उड़ा दी थी। एक आम चॉल के लड़के से बिग बुल बनने की यह कहानी दिलचस्प है।

भारत के सबसे बड़े और चर्चित घोटालों में से एक हर्षद मेहता के इस वेब शो के बहाने, बैंक, बाजार और सरकार के कई छुपे राज भी खुलते जाते हैं। धांसू डायलॉग, ऑथेंटिक बैकड्रॉप के साथ वर्तमान दौर की ऑथेंटिक वेब सीरीज में से एक है ।

The Big Bull  रिलीज से पहले ही फिल्म 'द बिग बुल' और वेब सीरीज 'स्कैम 1992' की तुलना शुरू हो गई थी. चूंकि दोनों की कहानी हर्षद मेहता शेयर मार्केट स्कैम पर आधारित है, ऐसे में कहा जा रहा था कि फिल्म में नया दिखाने के लिए कुछ बचा नहीं है. लेकिन अपनी बेहतरीन अदाकारी से जूनियर बच्चन ने अंतर पैदा कर दिया था |

फिल्म 'द बिग बुल'  OTT प्लेटफॉर्म पर release की गई थी इसमें बॉलीवुड एक्टर अभिषेक बच्चन और एक्ट्रेस इलियाना डिक्रूज के साथ सोहम शाह, निखिल दत्ता, वरुण शर्मा, चंकी पांडे, कुमुद मिश्रा और लेखा प्रजापति मुख्य भूमिकाओं में थे. इस फिल्म को अजय देवगन ने आनंद पंडित, विक्रांत शर्मा और कुमार मंगत पाठक के साथ मिलकर प्रोड्यूस किया था |

अभिषेक बच्चन ने ऐसी शानदार एक्टिंग की है कि फिल्म क्रिटिक्स भी हैरान रह गए हैं. तमाम फिल्म समीक्षकों ने उनके अभिनय की तारीफ की थी. कोमल नाहटा ने तो यहां तक लिखा है कि ऐसा लगता है कि फिल्म में हेमंत शाह का किरदार केवल अभिषेक के लिए ही बना है. उनकी जगह कोई भी दूसरा कलाकार इस रोल के साथ इस तरह न्याय नहीं कर पाता

Baazaar:  सैफ अली खान को लेकर बाजार फिल्म बनाई गई थी. इस film में शेयर मार्केट के उतार-चढ़ाव और उस दुनिया के इर्द-गिर्द होने वाली बातों को दर्शाने की कोशिश की गई थी

फिल्म को क्यों देख सकते हैं: फिल्म की कहानी बड़ी दिलचस्प है और खासतौर से इसका स्क्रीनप्ले कमाल का है. फिल्म देखते हुए इंटरवल कब आ जाता है पता ही नहीं चलता. फिल्म के संवाद भी काफी दिलचस्प है,  फिल्में कथानक जिस तरीके से आगे बढ़ता है वह काफी दिलचस्प है

हम कह सकते हैं कि पहली बार फिल्म का डायरेक्शन कर रहे गौरव के चावला बधाई के पात्र हैं बहुत ही अच्छा डायरेक्शन किया है. शेयर बाजार की रिसर्च भी काबिले तारीफ है. जिस इंसान को शेयर मार्केट के बारे में बिल्कुल नहीं पता उसके लिए भी यह फिल्म देखनी आसान हो जाती है. फिल्म को दर्शाने का एक अलग तरह का अंदाज है.

गफला  2006 की भारतीय हिंदी भाषा की क्राइम ड्रामा फिल्म है, जिसका निर्देशन समीर हंचटे ने किया है। यह film भी 1992 के शेयर बाजार घोटाले से प्रेरित एक फिल्मथी जिसमें मुख्य रूप से हर्षद मेहता शामिल थे

फिल्म को कई पुरस्कारों के लिए नामांकित किया गया था और तीसरा साइप्रस अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव, 2008 जीता, शांताराम पुरस्कार 2007 - सर्वश्रेष्ठ पदार्पण निर्देशक (समीर हंचटे)।[ इसे द टाइम्स बीएफआई 50वें लंदन फिल्म समारोह 2006 के लिए चुना गया था

Corporate कॉरपोरेट मधुर भंडारकर द्वारा निर्देशित 2006 की भारतीय हिंदी भाषा की ड्रामा फिल्म है, जिसमें बिपाशा बसु, के के मेनन, पायल रोहतगी, मिनिषा लांबा और राज बब्बर ने अभिनय किया है। फिल्म दो शक्तिशाली उद्योगपतियों के बीच सत्ता के खेल के बारे में है।

दो उद्योगपतियों, विनय सहगल के स्वामित्व वाले सहगल ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज (एसजीआई) और धर्मेश मारवाह के स्वामित्व वाले मारवाह ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज (एमजीआई) के बीच सत्ता के खेल के आसपास कॉर्पोरेट फिल्म घुमती है