सरकार ने एक बयान में बताया कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2021-22 की नौवीं सीरीज में 10 जनवरी से 14 जनवरी तक खरीद की जा सकती है

भारत सरकार की तरफ से इस बॉन्ड को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने जारी किया है। आइए जानते हैं सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2021-22 की नौवीं सीरीज से जुड़ी सभी जानकारी

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2021-22 की नौवीं सीरीज के 4,786 रुपये प्रति ग्राम का इश्यू प्राइस तय किया गया है

सरकार ने आठवीं सीरीज के इश्यू प्राइस से 5 रुपये प्रति ग्राम की कमी की है। आठवीं सीरीज के लिए 4,791 रुपये प्रति ग्राम का इश्यू प्राइस तय किया गया था

ऑनलाइन आवेदन करने वाले और डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वाले निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट दी जाएगी। इसका मतलब है कि ऐसे निवेशकों को यह बांड 4,736 रुपये प्रति ग्राम के भाव पर मिलेगा

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए कहां आवेदन करें ?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को बैंकों, भारतीय स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन (SHCIL), चुनिंदा पोस्ट ऑफिस और स्टॉक एक्सजेंचों- NSE और BSE के जरिए बेचा जाएगा

इस इश्यू में 2.5 फीसदी सालाना की दर से ब्याज मिलेगा। ये ब्याज हर 6 महीने में आपके अकाउंट में क्रेडिट हो जाएगा

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में एक वित्त वर्ष में एक व्यक्ति अधिकतम 4 किग्रा गोल्ड के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है

वहीं, ट्रस्‍ट या उसके जैसी संस्‍थाएं 20 किग्रा तक के बॉन्‍ड खरीद सकती हैं। बता दें आवेदन कम से कम 1 ग्राम और उसके मल्‍टीपल में जारी होते हैं

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए नो-योर-कस्टमर (KYC) के मानदंड वहीं हैं, जो फिजिकल गोल्ड की खरीद के लिए होते हैं

सरकार ने साल 2015 में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरूआत की थी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स गवर्नमेंट सिक्योरिटीज हैं। ये फिजिकल गोल्ड के विकल्प के तौर पर शुरू किया गया