IMF (इंटरनेशनल मोनिटोरी फण्ड) की MD क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने भारत की ग्रोथ rate 8.2 रहने का अनुमान जताया है, साथ में कहा है यह दुनिया के लिए भी अच्छी खबर है 

उन्होंने वर्ल्ड बैंक की एनुअल स्प्रिंग मीटिंग के दौरान एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया रिपोर्टर से बातचीत के दौरान बताया

उन्होंने आगे कहा, भारत एक तेजी से विकास करने वाला देश है , हालाकी उन्होंने कुछ downgrades के बाद फिर भी इस साल ग्रोथ rate 8.2 रहने की उम्मीद जताई 

उन्होंने कहा पूरी दुनिया में ग्रोथ में सुस्ती एक बड़ी समस्या है लेकिन भारत की विकास दर पूरी दुनिया के लिए positive है

इससे पहले वाशिंगटन में शिखर सम्मेलन के दौरान आईएमएफ चीफ और सीतारमण की मुलाकात हुई थी

उन्होंने आगे कहा महामारी के दौरान टीकों के निर्यात के जरिये भारत ने वैश्विक हित में काम करने की मिसाल पेश की है

भारत इंटरनेशनल सोलर अलायंस के साथ ही रिन्युएबिल एनर्जी के क्षेत्र में तेजी से काम कर रहा है

दूसरी तरफ IMF के फाइनेंशियल एडवाइजर और डायरेक्टर टोबियास एड्रियन ने कहा कुल मिलाकर IMF भारत को ‘‘एक बेहद पॉजिटिव रूप में देख रहा है

जहाँ क्रिप्टो एसेट्स का रेगुलेशन और डिजिटल करेंसी पेश करना प्रथम प्राथमिकताओं में शामिल है 

इसके अलावे भारत बैंकिंग क्षेत्र में रेगुलेशन से जुड़ी दूसरी चिंताओं को दूर करने और ग्लोबल इकोनॉमी के साथ एकीकरण जैसे संरचनात्मक मुद्दों पर भी भारत खास जोर दे रहा है