Sukanya Samriddhi Yojana 2022: सुकन्या समृधि योजना की विस्तृत जानकारी, क्यों योजना आपके बेटी के भविष्य के लिए जरुरी है ?

Sukanya Samriddhi Yojana | Pradhan mantri kayna yojna | सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर | सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट | Sukanya Samiriddhi Yojana Registration | ssy 2022 | sukanya scheme

भारत में बेटियों के भविष्य को सुरक्षित बनाने हेतु राज्य सरकारों और केंद्र सरकार द्वारा समय – समय पर कई घोषणा की जाती रही हैं साथ में कुछ योजनाओं का शुभारम्भ भी किया गया है जिनसे बच्चियों का भविष्य सुरक्षित हो सके | इन्ही योजनाओं में एक योजना है सुकन्या समृद्धि योजना  (Sukanya Samriddhi Yojana) जो काफी लोकप्रिय है | आइये जानते हैं इस योजना के बारे में विस्तार से,

आप किस तरह सुकन्या समृद्धि योजना योजना से जुड़ सकते हैं, किस तरह इस योजना से फायदा ले सकते हैं, इस योजना के लिए क्या-क्या नियम है , इससे जुड़ने के लिए कौन – कौन से दस्तावेज की आवस्यकता होगी, और इस योजना से जुड़े तमाम प्रश्नों के जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी इसलिए इसे अंत तक अवस्य पढ़ें |

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana 2022)

Sukanya Samiriddhi Yojana
Sukanya Samiriddhi Yojana

सुकन्या समृधि योजना (sukanya samriddhi yojana)का शुभारम्भ भारत सरकार द्वारा सन 2010 में किया गया था | भारत में बचत योजनायें काफी प्रचलित हैं और आज भी देश की एक बड़ी आबादी इन योजनाओ (Small saving schemes) में निवेश करती है | जो लोग शेयर बाजार के जोखिम से दूर रहना चाहते हों और फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) या किसी दुसरे कम व्याज वाले बचत योजना में में निवेश नहीं करना चाहते उनके लिए Sukanya Scheme बेहतरीन कदम साबित हो सकती है

इसी उदेश्य से इस योजना की शुरुवात की गयी थी क्योकि यह भी एक बचत योजना ही है और इस योजना को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्कीम के अंतर्गत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा लांच किया गया है। जिससे कि बेटियों के भविष्य को सुरक्षित किया जा सके। इस योजना के अंतर्गत किए गए निवेश को कन्या के विवाह एवं शिक्षा के लिए उपयोग किया जा सकता है।

इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक सदस्य अपनी बेटी के नाम से एक account खुलवा सकता है और उसमे उसे कुछ सालों तक पैसे जमा करने पड़ते हैं, बाद में जाकर वह पैसे एक बड़ी राशि में बदल जाता है जो आप उस बच्ची के विवाह या फिर शिक्षा के लिए उपयोग कर सकते हैं |

साथ ही इस योजना में निवेश करने से आपको टैक्स बचाने में भी मदद मिलेगी, क्योकि इस योजना में 1.50 लाख रूपये तक की राशि को टैक्स फ्री कर दिया गया है

कैसे खुलवाएं सुकन्या समृद्धि योजना खाता?

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में कम से कम 250 रूपये और ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रूपये तक की राशि जमा कर आप अपनी 10 साल से छोटी बेटी का खाता खुलवा सकते हैं |

किस उम्र तक की लड़की का खाता खुल सकता है

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाता खुलवाने के लिए आपकी बेटी की अधिकतम उम्र 10 वर्ष होनी चाहिए, अगर आपकी बेटी की उम्र 1 दिन से 10 साल के बीच है तो आप अपनी बेटी के नाम से इस योजना के लिए खाता खुलवा सकते हैं |

कितने पैसे जमा करने होंगे

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत पहले प्रति महा ₹1000 देने का प्रावधान था जिसमे अब परिवर्तन कर दिया गया है। अब इस योजना में निवेश के लिए न्यूनतम सीमा 250 रूपये रखी गयी है और अधिकतम सीमा 1.5 लाख रखी गयी है | इस मतलब अगर आप एक मजदुर हैं और आप की आय कम है तो भी आप कम से कम एक साल में 250 रूपये जमा कर सकते हैं | और अगर आप आर्थिक रूप से सक्षम हैं तो आप 1 साल में ज्यादा से ज्यादा 1 लाख 50 हजार रूपये तक जमा करवा सकते हैं |

ये पैसे आप एक साल के अन्दर किसी भी समय अवधि में जमा करवा सकते है चाहे तो महीने – महीने ये साल के अंत में एक साथ |

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए जरूरी कागजात

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Scheme) खाता खुलवाने के समय आपकी बेटी का जन्म प्रमाण पत्र (Birth certificate ) पोस्ट ऑफिस या बैंक में देना जरूरी है, इसके साथ ही लड़की और अभिभावक के पहचान (Identity proof) और पते का प्रमाण (Adress proof) भी देना जरूरी है |

कब तक जमा करने होंगे पैसे

इस योजना में आपको 14 साल तक पैसे जमा करने पड़ेंगे, और 14 साल तक पैसे जमा करने के बाद अगले 7 सालों तक उसपर ब्याज मिलता रहेगा |

उदाहरण के लिए अगर आपने अपनी बेटी के 3 साल के होने पर सुकन्या समृधि योजना में निवेश के लिए खाता खुलवाया है तो आपको अगले 14 साल तक यानि बेटी के 17 (3+14) साल होने तक पैसे जमा करने पड़ेंगे | account की maturity होगी   

जैसे ही आपकी बेटी 24 (3+21) साल की हो जाएगी, आपकी maturity पूरी हो जायगी, आपकी बेटी पैसे निकाल सकती है | इस तरह से आपको 14 साल बाद आपके पैसे पर अगले 7 साल तक व्याज मिल पाता है |

वही अगर आपने अपनी बेटी के जन्म के 1 साल के अन्दर ही खाता खुलवा लिया तो तो उसके 14 साल होने तक आप 14 साल के लिए पैसे जमा करेंगे और उसके 21 साल होने तक आपको जमा किये पैसे पर अगले 7 साल तक व्याज मिलता रहेगा जो आपके मूलधन में जुड़कर एक बड़ी राशि में बदल जायेगा |

नोट: यहाँ एक बात अत्यंत महत्वपूर्ण है आप शुरुवात में अपने प्रयास से ज्यादा से ज्यादा रकम जमा करने का प्रयास करें, बाद में अगर सक्षम नहीं हैं तो कम राशि कम कर सकते हैं क्योकि, इस राशि पर मिलने वाला व्याज लम्बे समय में compounding के चलते एक बड़ी राशि में बदल जायेगा |

सुकन्या समृधि योजना की पूरी जानकारी (Sukanya Scheme Details)

जमा किये पैसे पर कितना व्याज मिलेगा

यह सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न है क्योकि आपको तो पता होना चाहिए की निवेश करने पर ब्याज कितना मिलेगा, तो आपको बता दें जब शुरुवात में 2014 में यह योजना launch हुई थी तो इसपे मिलने वाले ब्याज की दर 9.1% के आस-पास थी | लेकिन बाद में हर साल के बजट में सरकार ने इसे घाटा दिया है और अभी सुकन्या समृधि योजना (sukanya samriddhi yojana)पर मिलने वाला व्याज घटा कर 7.6% कर दिया गया है |

क्या इसके ब्याज पर टैक्स भी लगता है

इस योजना में आप जो भी पैसा निवेश करेंगे और maturity के बाद मिलने वाला मूलधन और ब्याज पूरी तरह से टैक्स फ्री कर दिया गया है उस पैसे पर आपको कोई भी टैक्स नहीं देना पड़ेगा |

इस योजना में निवेश के लिए कहा खाता खुलवाएं

इस योजना में निवेश करने के लिए आप अपना खाता किसी भी पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक के कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में जाकर अपना खाता आसानी से खुलवा सकते हैं |

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए अधिकृत बैंक

सुकन्या समृद्धि योजना खाते खोलने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा अधिकृत कुल 28 बैंक हैं। उपयोगकर्ता निम्नलिखित में से किसी भी बैंक में SSY खाता खोल सकते हैं और इस योजना का लाभ उठा सकते है । उनमे से कुछ प्रमुख बैंक हैं – भारतीय स्टेट बैंक , बैंक ऑफ़ बड़ोदा , पंजाब नेशनल बैंक , बैंक ऑफ़ इंडिया , इंडियन बैंक  इत्यादि |

सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम कैसे जमा करें

सुकन्या समृद्धि योजना खाते में आप अपनी सुविधा अनुसार राशि कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट इत्यादि प्रकार से जमा कर सकते हैं | इसके लिए रकम जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर का नाम लिखना आवश्यक है |

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Scheme) खाते में पैसे इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर मोड (computer या mobile द्वारा online) से भी की जा सकती है, अगर उस पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम मौजूद होगा तभी ये संभव हो पायेगा |

सुकन्या समृद्धि योजना में अब तक दिए गए ब्याज

अप्रैल 1, 2014: 9.1%

अप्रैल 1, 2015: 9.2%

अप्रैल 1, 2016 -जून 30, 2016: 8.6%

जुलाई 1, 2016 -सितम्बर 30, 2016: 8.6%

अक्टूबर 1, 2016-दिसम्बर 31, 2016: 8.5%

जुलाई 1, 2017-दिसंबर 31, 2017 8.3%

जनवरी 1, 2018 -मार्च 31, 2018 : 8.1%

अप्रैल 1, 2018 – जून 30, 2018 : 8.1%

जुलाई 1, 2018 -सितंबर 30, 2018 : 8.1%

अक्टूबर 1, 2018 – दिसंबर 31, 2018 : 8.5%

जनवरी 1, 2019 – मार्च 31, 2019 : 8.5%

खाते में न्यूनतम राशि नहीं जमा करने पर क्या होगा

पहले सुकन्या समृधि योजना (sukanya samriddhi yojana)में यह नियम था की आपको हर साल नियमित रूप से इस की न्यूनतम राशि जमा करनी पड़ती थी अगर आप वह राशि जमा नहीं करते थे तो आपका खाता डिफ़ॉल्ट करार दे दिया जाता था लेकिन अब नियमो में बदलाव किया गया है और इस बदल दिया गया है |

अब अगर किसी कारणवस आप पैसे नहीं जमा कर पातें हैं तो आपके खाते को डिफ़ॉल्ट नहीं किया जायगा बल्कि उसपर maturity पूरी होने तक जमा किये हुवे रूपये पर ब्याज मिलता रहेगा |

सुकन्या समृद्धि योजना में बंद खाता फिर से चालू करने की प्रक्रिया

अगर किसी कारणवस आपने सुकन्या समृधि योजना (sukanya samriddhi yojana) में कुछ वर्षों से पैसे नहीं जमा किये तो कुछ समय के लिए आपके खाते को बंद कर दिया जाता है अब आप जब भी use फिर से खुलवाना चाहेंगे आपको अपनी क़िस्त के साथ प्रत्येक साल के हिसाब से 50 रूपये का जुर्माना (penalty) देना होगा जैसे अगर आपने 3 सालों से पैसे नहीं जमा किये हैं तो अपने खाते को फिर से चालू करने के लिए आपको तीन साल क़िस्त 750 रूपये और 3 साल का जुर्माना 150 रूपये मिलाकर कुल 900 रूपये जमा करवाने होंगे तब जाकर आपका खाता फिर से चालू हो जायेगा |

अगर आप ने जुर्माना नहीं चुकाया तो Sukanya Scheme खाते में जमा रकम पर पोस्ट ऑफिस के सेविंग एकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा जो अभी करीब चार फीसदी है

Sukanya Samriddhi Yojana 2022

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत कितनी बेटियों को लाभ दिया जाता है

सुकन्या समृधि योजना (sukanya schemes) के अंतर्गत नियम के अनुसार एक परिवार से केवल दो बेटियों को ही इस योजना में शामिल किया जा सकता है | अगर आप को 2 से ज्यादा बेटियां है तो फिर आप किसी दो बेटियों पर ही इस योजना का लाभ ले सकते हैं और उनके नाम से खाता खुलवा सकते हैं |

एक दुसरे कंडीशन के तहत तीन बेटियों को भी फायदा मिल सकता है अगर किसी परिवार में 2 बेटियां जुड़वाँ पैदा हुई हो तो उन्हें योजना के नियम के अनुसार एक ही माना जायेगा और उन दोनों का खाता तो खुलेगा ही साथ में अगर आपकी कोई तीसरी बेटी भी है तो आप अपनी तीसरी बेटी के नाम से भी खाता खुलवा सकते हैं |

क्या सुकन्या समृद्धि योजना पर लोन लिया जा सकता है ?

जैसा की हम जानते हैं दूसरी बचत योजनाओं जैसे PPF, FIXED DEPOSIT पर आप आसानी से लोन ले सकते हैं तो क्या जरुरत पड़ने पर हम इस योजना पर भी लोन ले सकते हैं ? नहीं, अन्य बचत योजनाओ की तरह आप इस योजना पर लोन नहीं ले सकते | हां अगर आपके बेटी की उम्र 18 वर्ष हो चुकी है तो फिर आप उसकी शिक्षा जैसी जरूरतों के लिए आधी रकम की निकासी कर सकते हैं |

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने के फायदे

सुकन्या समृधि योजना (sukanya schemes) में निवेश करने के कुछ फायदे हैं आइये जानते हैं उनके बारे में

अगर हम सभी बचत योजनाओं पर दी जाने वाली व्याज दर की तुलना करें तो इस योजना में आपको उनसे बेहतर ब्याज दर मिलता है जो है 7.6%

इस योजना में निवेश करने पर आपको आयकर अधिनियम 1961 के सेक्शन 80C के तहत टैक्स में 1.50 लाख तक की छुट भी प्रदान की जाएगी |

सुकन्या समृधि योजना (sukanya schemes) के maturity पूरी होने पर मिलने वाले मूलधन और ब्याज दोनों को टैक्स फ्री कर दिया गया है उनपर आपको कोई भी टैक्स नहीं देना पड़ेगा |

इस योजना का फायदा आप दो बेटियों के लिए भी ले सकते है |

अगर एक मजदुर वर्ग का आदमी भी इसमें खाता खुलवाना चाहे तो वह भी कम से कम साल के 250 रूपये जमा कर अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित कर सकता है |

और अगर कोई ज्यादा आमदनी वाला व्यक्ति है तो वो अधिकतम 1,500000 रूपये तक साल के जमा करवा सकता है | यहाँ सभी वर्गों को ध्यान में रख कर ये योजना बनाई गयी है |

खाता धारक की म्रत्यु होने पर क्या करें

यदि किसी कारणवस् खाता धारक की मृत्यु हो जाती है या फिर खाताधारक का स्टेटस एनआरआई (विदेशी नागरिकता) हो जाता है तो इस स्थिति में खाते को बंद किया जा सकता है और मृत्यु प्रमाण पत्र दिखा कर आप निवेश किये हुवे पैसे की निकासी कर सकते हैं |

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ट्रांसफर

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या फिर एक बैंक से दूसरे बैंक में अकाउंट को आसानी से ट्रांसफर किया जा सकता है। इसके लिए आपको निम्न प्रक्रियाओ का पालन करना पड़ेगा –

सर्वप्रथम आपको अपनी अपडेटेड पासबुक और केवाईसी दस्तावेजों को लेकर डाकघर में या फिर बैंक में जमा करना  होगा। ट्रांसफर के दौरान बालिकाओं को उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है।

इसके बाद पोस्ट ऑफिस या बैंक का कर्मचारी आपका खाता बंद कर देगा और ट्रांसफर रिक्वेस्ट का रसीद आपको दे देगा। इसके अलावा आपसे सभी जरूरी दस्तावेजों की मांग की जाएगी।

अब आपको यह ट्रांसफर रिक्वेस्ट की रसीद लेकर नए पोस्ट ऑफिस या फिर बैंक अकाउंट में जाना होगा और वहां पर यह सभी दस्तावेज जमा करवाने करने होंगे।

पहचान एवं पते के प्रमाण के लिए आपको केवाईसी दस्तावेजों को भी जमा करना होगा।

अब आपको एक नई पासबुक दे दी जाएगी जिसमें आप अपनी जमा राशि की जानकारी ले सकते हैं |

Sukanya Samriddhi Scheme New Update

साल 2019 में कोरोना वायरस की वजह से भारतीय economy पर इसका व्यापक प्रभाव पड़ा था जिसके बाद सरकार ने छोटी बचत योजनाओं के ब्याज दरों में कटौती की घोषणा की। इसके बाद कई बचत योजनाओ के ब्याज दरों में कटौती की गई। जिसके बाद सुकन्या समृधि योजना (sukanya schemes) पर मिलने वाली व्याज दर को 8.4 फीसदी से कम कर 7.6 फीसदी कर दिया गया ।

सुकन्या समृद्धि योजना 2022 का उद्देश्य

योजना का उद्देश्य लड़कियों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाना और विवाह के समय पैसो की कमी न आने देना है  | इस योजना में निवेश कर देश के गरीब लोग बचत खाते में अपनी बेटी की पढाई और शादी में होने वाले खर्च को आसानी से पूरा कर सकते है |  इस SSY 2022 से देश की लड़कियों को प्रोत्साहन मिलेगा और वह आगे बढ़ पायेगी |इस योजना के ज़रिये लड़कियों की भ्रूण हत्या को रोकना भी एक उदेश्य है |

SSY Scheme 2022                                                     

सुकन्या समृद्धि योजना पासबुक

इस पासबुक पर खाता खुलने की तारीख, बच्ची की जन्म की तारीख, खाता संख्या, खाता धारक का नाम, पता और जमा की गई रकम दर्ज होती है।

इस पासबुक को खाते में पैसा जमा करने, ब्याज भुगतान प्राप्त करने के समय बैंक या डाकघर में जमा करना होता है।

खाता बंद कराने के समय भी इस पासबुक का उपयोग किया जाता है।

सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट बंद करवाने के नियम

खाता धारक की मृत्यु: यदि खाता धारक की मृत्यु हो जाती है तो इस स्थिति में यह खाता बंद करवाया जा सकता है।

जानलेवा रोग की स्थिति: यदि खाताधारक को किसी प्रकार का जानलेवा रोग हो जाता है तो इस स्थिति में भी यह खाता बंद करवाया जा सकता है।

अभिभावक की मृत्यु: खाताधारक के अभिभावक (जो खाते का संचालन करता है) की मृत्यु की स्थिति में भी यह खाता बंद करवाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना एकाउंट मैच्योर कब होगा?

खाता खोलने के दिन से 21 साल पूरा होने या लड़की की शादी होने के बाद एकाउंट मैच्योर हो जाता है |

सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़े शर्तें

अगर खाताधारक (लड़की) की शादी खाता खोलने के 21 साल पूरे होने से पहले हो जाती है तो खाते में रकम जमा नहीं कराई जा सकती |

अगर खाता 21 साल पूरा होने से पहले बंद कराया जा रहा है तो आपको साथ में एक एफिडेविट देना पड़ेगा कि खाता बंद करने के समय लड़की की उम्र 18 साल से कम नहीं है |

Account mature होने पर निकासी के वक़्त पासबुक और विथड्रावल स्लिप पेश करने पर खाताधारक को ब्याज सहित जमा रकम वापस मिल जायेंगे |

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत सिर्फ भारतीय नागरिकों का ही खाता खुल सकता है | यह आवश्यक है की खाताधारक मैच्योरिटी के वक्त भी यहीं रह रहा हो |

अप्रवासी भारतीय (NRI) सुकन्या समृद्धि योजना में खाता नहीं खोल सकते |

अगर इस योजना में खाता खोलने के बाद लड़की किसी और देश में चली जाती है और use वहां की नागरिकता मिल जाती है तो नागरिकता लेने के दिन से सुकन्या समृद्धि योजनाखाते में जमा रकम पर ब्याज मिलना बंद हो जायेगा |

सुकन्या समृद्धि योजना में डिजिटल अकाउंट के माध्यम से जमा होगा पैसा

अगर आपने पोस्ट ऑफिस के किसी बचत योजना में खाता खुलवाया होगा तो आपको पता होगा कि पोस्ट office में हमेशा आपको जाकर पैसे को हाथों से जमा करवाना पड़ता था, जिसमे कभी – कभी बहुत भीर के चलते और आने जाने में लगने वाले समय के दौरान समय की बहुत बर्बादी होती थी |

लेकिन अब सभी चीजे धीरे – धीरे डिजिटल हो रहीं हैं और पोस्ट ऑफिस में भी अब डिजिटल अकाउंट (Digital Account) की शुरुवात हो चुकी है अब आप पहले की तरह post office जाने की बजाय सीधे घर बैठे ही अपने mobile phone से सुकन्या समृधि योजना (sukanya schemes) की क़िस्त पैसे ट्रान्सफर कर जमा कर सकते हैं | 

ये सुविधा आप उन पोस्ट ऑफिस या बैंक में ले सकते हैं जिनमे core banking की सुविधा होगी |

पोस्ट ऑफिस में डिजिटल अकाउंट की सुविधा

अगर आप ने पहले से पोस्ट ऑफिस में अपना खाता खुलवा रखा है तो अब डिजिटल अकाउंट के लिए आपको पोस्ट ऑफिस जाने की जरुरत नहीं है अगर आप के पास pan card और aadhar card है तो आप घर बैठे डिजिटल account की सुविधा ले सकते है इतना ही नहीं आप डिजिटल account के माध्यम से पोस्ट ऑफिस के किसी भी scheme में पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं, इस डिजिटल अकाउंट की वैलिडिट या यु कहे यह 1 साल तक वैध रहता है एक साल बाद आपको फिर से KYC update करवाना पड़ेगा |

लोगों की सुविधा के लिए शुरू किया गया IPPB  app

हाल ही में पोस्ट ऑफिस द्वारा एक नए आप IPPB APP का भी शुभारम्भ किया गया है जिसके द्वारा आप आसानी से घर बैठे ही पोस्ट ऑफिस से पैसे का लेन- देन कर पाएंगे, इस app के द्वारा आप डिजिटल account की सुविधा ले पाएंगे और सुकन्या समृधि योजना (sukanya samridhi yojna) के अलावे भी किसी दूसरी बचत योजना में आसानी से पैसे transfer कर पाएंगे |

सुकन्या समृद्धि योजना टोल फ्री नंबर

इस योजना से जुड़े किसी भी प्रकार के सवाल – जवाब के लिए आप sukanya samridhi yojna toll free number 18002666868 पर संपर्क करके अपने प्रश्नों का समाधान प्राप्त कर सकते हैं | यह नंबर भारत सरकार द्वारा जारी किया गया है |

सम्बंधित प्रश्न – उत्तर (FAQ)

सुकन्या समृद्धि योजना में 1000 जमा करने पर कितना मिलेगा ?

सुकन्या समृद्धि योजना में हर साल सरकार ब्याज की दर revive करती है शुरू में यह दर 9.1% था जो अब 7.6% हो गया है फिर भी अगर आप हर महीने 1000 रूपये जमा करते है तो साल में आपके 12000 हो गए 21 साल बाद maturity पूरी होने पर आपकी रकम एक अनुमान के मुताबिक 5 लाख से ज्यादा होगी |

सुकन्या समृद्धि योजना खाता हम कितने पैसे से शुरू कर सकते है ?

इस योजना के तहत शुरू में न्यूनतम राशि 1000 रूपये थी जिसे अब नियम में परिवर्तन कर न्यूनतम राशि 250  रूपये और अधिकतम 150000 रुपये कर दिया गया है |

क्या हम सुकन्या समृद्धि योजना Online खाता खोल सकते है ?

अभी यह सुविधा उपलब्ध नहीं है आपको बैंक या पोस्ट ऑफिस जाना ही पड़ेगा लेकिन अगर उस पोस्ट ऑफिस या बैंक में ऑनलाइन fund ट्रान्सफर की सुविधा है तो आप अपनी क़िस्त ऑनलाइन ट्रान्सफर कर के जमा कर सकते हैं |

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान क्या है ?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खाता सिर्फ 0 से  10 वर्ष तक की बच्चियों का ही खोला जाता है इस योजना की उम्र सीमा अगर ज्यादा होती तो और भी बच्चियां इसमें शामिल हो पाती |

स्रोत: यह सूचना वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक की वेबसाइट से जुटाई गयी है |

डिस्क्लेमर: इस योजना के बारे में पूरी जानकारी के लिए आप योजना बनाने वाली अथॉरिटी से बात कर सकते हैं. सुकन्या समृद्धि योजना की जानकारी मौजूद नियमों के हिसाब से है, इसमें किसी बदलाव के लिए हमारी जिम्मेदारी नहीं है |

Leave a Comment

Pin It on Pinterest

Stock market latest news : जाने-माने Fund Manager Nilesh Shah ने बताया गिरावट की मुख्य वजह Vijay Kedia latest news : इन लोगों ने शेयर बाज़ार को जुवारियों का अड्डा बना दिया Aether Industries IPO: मुख्य बाते जो आपको जानी चाहिए इस Crypto Currency ने डुबाये निवेशकों के 40 बिलियन रूपये, Crypto Currency में निवेश करना कितना सुरक्षित Grubhub free lunch: Free lunch for NYC office workers on 17th May , use the promo code