PPF Account : बिना जोखिम के अच्छा ब्याज दर, जाने पूरी प्रक्रिया विस्तार में, [क्या होता है, कैसे खोले,फायदे]

PPF Account: आज के समय में सभी को अपने भविष्य के लिए कुछ न कुछ बचत करनी चाहिए, और अपनी बचत की हुई राशि को किसी अच्छे जगह निवेश करना चाहिए | लोग अपनी समझ और जरुरत के अनुसार अलग- अलग योजनाओ में निवेश करते हैं, कुछ योजनाओं में उन्हें ज्यादा तो कुछ में कम ब्याज दर मिलता है उसी में से एक योजना है ppf योजना (Public provident fund) जिसमे आपको अच्छा ब्याज दर भी मिलता है और इसमें निवेश पर कोई जोखिम भी नहीं है |

पीपीएफ अकाउंट पर आपको अच्छे ब्याज दर के साथ टैक्स का भी फायदा मिलता है | ppf में दूसरी योजनाओं की तुलना में जैसे आरडी (RD) और एफडी (FD) अकाउंट पैसा ज्यादा तेजी से बढ़ता है |

सबसे खास बात यह है, कि पीपीएफ अकाउंट में आपको एकमुश्त पैसा नही जमा करना होता है | आप 50-50 रुपए जमा करके भी यह अकाउंट चालू रख सकते हैं। इसके अलावा यदि आप PPF Account क्या होता है ? और पीपीएफ का फुल फॉर्म तथा PPF खाते का लाभ क्या है? इसकी विस्तृत जानकारी दे रहे है |

Public Provident Fund (PPF) की पूरी जानकारी

ppf account
ppf account

PPF Account क्या होता है (PPF Account Kya Hota?)

पीपीएफ का फुल फॉर्म (PPF Full form)

PPF (पीपीएफ) का फुल फॉर्म Public Provident Fund (पब्लिक प्रोविडेंट फंड) होता है | जबकि हिंदी में इसे सार्वजनिक भविष्य निधि योजना कहते है |

1968 में शुरू की गयी यह योजना लोगो के बीच काफी प्रचलित हुई, खासकर उन उनलोगों के बीच जो किसी EPFO (employee provident fund) की सुविधा नहीं ले सकते, उन्होंने इस योजना में अपना निवेश शुरू किया |

इस योजना का मूल मकसद व्यक्तियों को निवेश के लिए प्रोत्साहित करना था । यह एक लंबी अवधि की निवेश योजना है, जो आकर्षक ब्याज दरों की पेशकश करती है | जो आपको मेच्योरिटी की अवधि पूरा होने पर एक अच्छा रिटर्न प्रदान करती है।

इसी के साथ इस योजना में निवेश कर आप हर साल 1.50 लाख रूपये तक टैक्स में छुट भी प्राप्त कर सकते हैं |

पीपीएफ को पहली बार आम आदमी के लिए 1968 में वित्त मंत्रालय के राष्ट्रीय बचत संस्थान (National Savings Institute) द्वारा पेश किया गया था। तब से यह निवेशकों के बीच काफी प्रचलित है और यह निवेशकों के बीच संपत्ति बनाने के लिए एक बेहतर जरिया बना हुआ है।

अगर आप भारतीय नागरिक हैं तो पीपीएफ अकाउंट खुलवा सकते हैं। आप यह अकाउंट किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में मात्र 500 रुपए जमा करवाके खुलवा सकते हैं ।

इसके पश्चात आप प्रति वर्ष कम से कम 500 रुपए और अधिक से अधिक 1 लाख 50 हजार रुपये तक जमा कर सकते है | यह अकाउंट 15 वर्षो तक संचालित रहता है लेकिन अधिक जरुरत के समय आप समय से पहले पैसे की निकासी कर सकते हैं या फिर इस पर लोन भी ले सकते हैं |

पीपीएफ की लोकप्रियता का कारण (Why is PPF So Popular?)

आज के समय में लोगो की सबसे बड़ी जरुरत है उनका निवेश सही जगह पर हो और वो पूरी तरह रिस्क फ्री हो उसमे किसी भी प्रकार का जोखिम न हो | पीपीएफ के भी लोकप्रिय होने का कारण है यह सबसे सुरक्षित निवेश उत्पादों में से एक है। अर्थात भारत सरकार फंड में आपके निवेश की गारंटी देती है।

हर तिमाही आधार पर सरकार पीपीएफ अकाउंट पर मिलने वाले ब्याज दर का संसोधन करती है | इसके अलावे ppf में निवेश करने पर आपको टैक्स बेनिफिट भी दिया जाता है |

पीपीएफ ब्याज दर (What is the Interest Rate on PPF?)

PPF पर मिलने वाले ब्याज की गणना हर तिमाही किया जाता है जो बदल भी सकता है वर्तमान में पीपीएफ अकाउंट पर मिलने वाले ब्याज की दर 7.1%  वार्षिक है | जिसका भुगतान 31 मार्च को किया जाता है। ब्याज की गणना पांचवें दिन की समाप्ति और हर महीने के अंतिम दिन के बीच न्यूनतम बची हुई राशि पर की जाती है।

PPF खाता खुलवाने का लाभ (Benefits of PPF Account)

ब्याज दर (Interest Rate)

PPF पर आपको बाकि योजनाओं की तुलना में अच्छा ब्याज मिलता है जो हर तिमाही पर सरकार द्वारा रिव्यु किया जाता है |

टैक्स में छुट (Tax Benefits)

PPF में निवेश की गई राशि पर आपको 80c के तहत 1.50 तक के निवेश पर टैक्स में छुट दी जाती है | यह छुट (EEE) श्रेणी के अंतर्गत आता है। संचित राशि (Accumulated amount), प्राप्त ब्याज और मेच्योरिटी राशि (Maturity Amount) भी निकासी पर कर-मुक्त अर्थात टैक्स फ्री है।

निवेश की अवधि (Period of Investment)

पीपीएफ एक निश्चित लॉक-इन अवधि या 15 वर्ष की निवेश अवधि के साथ आता है। प्रारंभिक कार्यकाल समाप्त होने के बादआप इसके 5 वर्ष के ब्लॉक में कार्यकाल बढ़ा सकते हैं।

आपको इस अकाउंट में कम से कम 500 रुपये प्रति वर्ष जमा करना होगा, जबकि अधिकतम 1.50,000 लाख रूपये तक जमा कर सकते है |

एक आदमी अपने नाम से केवल एक ही ppf account खुलवा सकता है |

लम्बी अवधि में चक्रव्रिधि ब्याज का फायदा ( Benefits of Compounding )

प्रति वर्ष आपके द्वारा जमा की गई राशि पर आपको चक्रवृद्धि ब्याज (Compound Interest) मिलता है हर साल के साथ बढ़ती जमाओं के कारण आपकी ब्याज से होने वाली आय बढ़ती जाती है |

PPF अकाउंट से पैसे की निकासी (PPF Money Withdrawal)

पीपीएफ में 15 सालों के लिए निवेश किया जाता है । जरुरत पड़ने पर आप निवेश के छठे वर्ष के अंत में आंशिक निकासी कर सकते हैं।

इसके अलावा आप वर्ष में केवल 1 बार निकासी करते हैं, तो चौथे वर्ष के अंत में खाते में केवल 50% राशि की निकासी कर सकते है।

 निवेश किए गए सभी पैसे को 5 साल के बाद ही समय से पहले निकाला जा सकता है।

अगर आप ppf के पैसे को नहीं निकलना चाहते तो आप इस पर ऋण भी ले सकते हैं | पीपीएफ खाते पर तीसरे और पांचवें वर्ष के बीच ऋण लिया जा सकता है  और सिर्फ किसी आपात स्थिति के लिए 7वें वर्ष के बाद आंशिक निकासी कर सकते हैं।

पीपीएफ खाते की किसे खुलवाना चाहिए (Why You Should Open PPF Account)

पब्लिक प्रोविडेंट फंड खाता उन निवेशकों के लिए सही है जो जोखिम से बचना चाहते हैं। यह योजना गारंटीकृत रिटर्न के लिए है और इस प्रकार भारत में निवेशकों की वित्तीय जरूरतों की रक्षा करता है। पीपीएफ खाते में निवेश की गई राशि पर शेयर बाज़ार का कोई असं नहीं पड़ता, लेकिन सरकार हर तीन महीने पर इसे जरुर revive करती है और इसलिए यह खाता भारत में मध्यम वर्ग के आय वाले लोगों के बीच लोकप्रिय बना हुआ है।

PPF खाता आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से खुलवा सकते हैं | आइये जानते हैं ppf खाता खुलवाने के लिए क्या पात्रता होनी चाहिए |

पीपीएफ खाते के लिए पात्रता (PPF Account Eligibility Criteria )

  • अगर आप एक भारतीय नागरिक हैं तो आप पीपीएफ खाता खुलवा सकते हैं |
  • विदेश में बसे भारतीय नागरिक अपने पीपीएफ खाते का संचालन जारी रख सकते हैं |
  • माता-पिता/अभिभावक अपने छोटे बच्चों की ओर से यह खाता खुलवा सकते है |
  • एक व्यक्ति केवल एक ही पीपीएफ खाता खुलवा सकता है |
  • हिंदू अविभाजित परिवार पीपीएफ खाता नहीं खुलवा सकते |

पीपीएफ के लिए आयु सीमा (PPF Account Opening Age Limit)

पीपीएफ खाता के लिए कोई आयु निर्धारित नहीं है छोटे बच्चो के अभिभावक उनके नाम से भी खाता खुलवा सकते हैं वैसे अगर आप की उम्र 18 वर्ष की हो गई है तो आप इसे खुद संचालित कर सकते हैं

  • नाबालिग का अभिभावक उसकी ओर से पीपीएफ अकाउंट ओपन कर सकते है |
  • परिवार के बुजुर्ग जैसे दादा-दादी या नाना-नानी अपने नाती-पोतों की ओर से तब तक पीपीएफ खाता नहीं खोल सकते, जब तक कि वह नाबालिगों के कानूनी अभिभावक न हों |
  • कम से कम रु. 500 और अधिकतम 1.5 लाख रु. एक वित्तीय वर्ष में नाबालिग के अभिभावक द्वारा पीपीएफ खाते में जमा किए जा सकते हैं |

पीपीएफ खाते के लिए आवश्यक दस्तावेज (PPF Account Opening Documents)

  • आईडी प्रूफ – आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड |
  • एड्रेस प्रूफ, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, आधार कार्ड, राशन कार्ड |
  • पासपोर्ट साइज फोटो |
  • नॉमिनी डिक्लेरेशन फॉर्म |
  • पीपीएफ खाता खोलने का फॉर्म |
  • नाबालिग का पीपीएफ खाता खोलने के लिए जन्म प्रमाण पत्र |
  • बैंक शाखा में पे-इन-स्लिप |

इसके अलावे अगर किसी प्रकार के दस्तावेज की अलग से जरुरत पड़ती है तो वो आपको उस पोस्ट ऑफिस या बैंक, जहाँ आप अपना ppf account खुलवा रहे हैं माँगा जायेगा |

पीपीएफ अकाउंट कैसे खोलें (How to Open a PPF Account)

जैसा ही हमने पहले बताया आप ppf खाता ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से खुलवा सकते हैं | बस आप ppf खाते के लिए उपयूक्त पात्र हो तो आप का ppf खाता आसानी से खुल जायेगा |

जो व्यक्ति ऑनलाइन माध्यम से पीपीएफ खाता खोलना चाहते हैं, उन्हें पहले चुने हुए बैंक या डाकघर की वेबसाइट पर जाना होगा।

जो लोग ऑफलाइन ppf खाता खुलवाना चाहते है, उन्हें निकटतम डाकघरों या चुने हुए बैंक में जाना होगा और आवेदन पत्र भरना होगा साथ में आवश्यक कागजात जमा करना होगा |

उदहारण के रूप में हम यहाँ SBI में ऑनलाइन पीपीएफ खाता खोलने की प्रक्रिया बता रहें हैं –

सबसे पहले आपको गूगल में onlinesbi search करना है उसके बाद आप sbi की साईट पर पहुच जायेंगे |

ppf account online open
ppf account online open

एसबीआई के इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल http://www.onlinesbi.com पर अपने netbanking userid और  password से लॉग इन करें ।

ppf account online open

ऊपर Deposit टैब में submenu में आपको PPF Account का option नजर आएगा |

ppf account online open

उसके बाद आपको Public provident fund सेक्शन में PPF Account Opening (without visiting branch) पर क्लिक करना है |

ppf account online open

अगले पेज पर आपको Apply for PPF account पर क्लिक करना है |

ppf account online open

क्लिक करने पर  New PPF Account का पेज ओपन हो जाएगा, जहां आपका नाम, पता, सीआईएफ नंबर और पैन कार्ड का विवरण पहले से भरा हुआ दिख जायेगा।

आगे की प्रक्रिया में अपना बैंक खाता नंबर और शाखा कोड दर्ज करें, जिससे आप पीपीएफ खाते के लिए भुगतान करना चाहते हैं। इसके पश्चात ‘शाखा नाम प्राप्त करें’ बटन पर क्लिक करें।

वेरीफिकेशन के लिए आपका पर्सनल और नामांकन विवरण प्रदर्शित किया जाएगा। इसके पश्चात आपको ‘आगे बढ़ें’ के आप्शन पर क्लिक करना होगा।

आपका पीपीएफ खाता तुरंत ओपन होने के साथ ही खाता संख्या स्क्रीन पर आ जायेगा ।

Leave a Comment

Pin It on Pinterest

Byjus WhiteHat Jr को Rebranding करने की तैयारी में Maruti Suzuki Brezza 2022: नई ब्रेजा हुई लॉन्च, जाने डिटेल्स RJD regains single largest party tag in Bihar: बिहार में ओवैसी के 5 में से चार विधायक भागे ICICI Securities top pics best stock to buy Angel Broking top pics , best Stocks to buy