how to invest in share market

भारतीय शेयर बाजार में कैसे निवेश करें ? | How to Invest in Share Market in hindi

Investment Share market basics

भारतीय शेयर बाजार में कैसे निवेश करें (how to invest in share market in hindi) ? हम आज विस्तार से चर्चा करेंगे कि एक नया निवेशक शेयर बाजार में किस तरह से अपनी मेहनत की कमाई को निवेश करके एक बड़ा मुनाफा कमा सकता है । हमारी आबादी का एक बहुत बड़ा हिस्सा आज भी शेयर मार्केट में निवेश करने से डरता है परंतु कुछ सालों में निवेश करने वालों की संख्या काफी ज्यादा बड़ी है  अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें यह नहीं पता कि शेयर बाजार में किस तरह निवेश किया जाए तो आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि आप किस तरह से शेयर बाजार में निवेश कर सकते हैं ।


इस लेख में हम निवेश से संबंधित सभी जानकारियां देने का प्रयास करेंगे तो आप से आग्रह  है कि इस लेख को अंत तक पढ़ें जिससे आपको सभी जानकारियां आसानी से समझ में आ जाए ।

Table of Contents

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले आवश्यक जानकारियां– (How to Invest in Share Market in hindi)


भारतीय शेयर बाजार में निवेश करने के लिए आपको निम्नलिखित वस्तुओं की आवश्यकता पड़ेगी–

  • बैंक में खाता
  • ट्रेडिंग खाता और डीमैट खाताकंप्यूटर या लैपटॉप या मोबाइलइंटरनेट कनेक्शन

डीमैट खाता और ट्रेडिंग खाता खुलवाने के लिए आपको नीचे दिए गए दस्तावेज (documents) जरूरत पड़ेगी-

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • कैंसिल किया हुआ चेक या बैंक स्टेटमेंट या पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो

अपने बैंक का खाता आप किसी भी सरकारी या निजी बैंक में खुलवा सकते हैं ।

डीमेट और  ट्रेडिंग खाता कहां खुलवाना है इसकी चर्चा हमने दूसरे पोस्ट में कर रखा है जिसे आप इस लिंक पर जाकर पढ़ सकते हैं । डीमैट और ट्रेडिंग खाता कहा खोले ?

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए और आपको अपना डिमैट खाता खुलवाने के लिए पैन कार्ड एक आवश्यक डॉक्यूमेंट है अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो आप इसे आसानी से बनवा सकते हैं आपकी उम्र 18 वर्ष या उससे ऊपर की होनी चाहिए ।


शेयर बाजार में निवेश करने से पहले कुछ जरूरी दिशा निर्देश


शेयर बाजार में लोग अच्छा मुनाफा कमाने के उद्देश्य से निवेश करते हैं क्योंकि यहां आपको किसी भी बैंक के  FD (Fixed Deposit) से ज्यादा रिटर्न मिलता है परंतु  यहाँ आपको लंबे समय के लिए निवेश करना पड़ता है आपको बहुत सारे उदाहरण मिल जाएंगे जिन लोगों ने शेयर बाजार से बहुत सारे पैसे कमाए हैं तो कुछ लोग ऐसे भी मिलेंगे जिन लोगों ने अपने पैसे गवाएं हैं ।


नीचे कुछ अत्यंत महत्वपूर्ण बातें बताई गई हैं जिन्हें आपको अवश्य मानना चाहिए, अगर आप शेयर बाजार में निवेश करने की सोच रहे हैं

अगर आपके ऊपर किसी भी प्रकार का कर्ज है जहां आपको बहुत ज्यादा ब्याज देना पड़ रहा हो तो शेयर बाजार में निवेश करने से अच्छा है कि आप पहले उस कर्ज का भुगतान करें ।

अपनी जरूरत में इस्तेमाल होने वाले पैसे को आप कभी भी शेयर बाजार में निवेश मत करें उदाहरण के लिए अगर आपके पास अपने मकान का किराया देने के लिए पैसे हैं , अपने बेटी या बहन की शादी करने के लिए पैसे हैं,  इलाज के लिए पैसे हैं , अपनी पढ़ाई के पैसे हैं , तो इन पैसों को आप कतई शेयर बाजार में निवेश ना करें ।


आपको हमेशा उस पैसे को निवेश करना चाहिए जिसको निवेश करने से तत्काल आपके ऊपर किसी भी तरह की परेशानी ना आए । इसलिए सलाह दी जाती है कि आप अपनी जरूरतों के बाद, जो पैसे आपके पास बचते हैं आप उन्हें ही निवेश करने का प्रयास करें ना कि अपनी जरूरत के पैसों को ।

जब भी आप शेयर बाजार में निवेश करने का सोच रहे हैं तो आपके पास इतने पैसे अवश्य होने चाहिए कि आप 6 महीने तक आराम से जीवन यापन कर सकें क्योंकि हो सकता है आपके पास जो भी पैसे हो उसे आपने निवेश कर दिया और अचानक से आपकी नौकरी छूट गई या फिर किसी तरह का मुसीबत आ गया तो,  तो इसके लिए हमेशा आपके पास इमरजेंसी फंड के रूप में 6 महीने  का वेतन होना चाहिए ।

आपको अपने सभी पैसे एक बार में निवेश नहीं करना चाहिए आप अपने कुल बचत का कुछ ही भाग एक बार में निवेश करें ।

भारतीय शेयर बाजार में कैसे निवेश करें ? (How to invest in share market in India)

आप निवेश क्यों करना चाहते हैं ?

अलग -अलग लोग शेयर बाज़ार में अलग -अलग उद्देश्य लेकर आते हैं जैसे कुछ लोग अपने पैसे को कई गुना बढ़ा कर उसपर अच्छा मुनाफा करने के उद्देश्य से आते हैं तो कुछ लोग अपने निवेश को अन्य आय का जरिया सोच करे शेयर बाज़ार में निवेश करते हैं जैसे dividends लेकर , या कुछ लोग कार या घर खरीदने के उदेश्य से निवेश शुरू करते हैं तो कुछ लोग बिना उदेश्य की ही निवेश शुरू कर देते हैं | कहने का मतलब आप जब भी निवेश शुरू करे आपका उदेश्य निश्चित होना चाहिए | एक निश्चित उदेश्य ये आप ये अंदाजा लगा सकते हैं की आपको कितनी राशि और कितने समय तक निवेश करना पड़ेगा |

निवेश कैसे करे ? (How to invest)

जब आप समझ गए होंगे की  आपको क्यों निवेश करना चाहिए तो अब आपके सामने अगला प्रश्न हैं की निवेश कैसे करे ? आप योजनाबद्ध तरीके से निवेश करने के बारे में सोच सकते हैं | कुछ लोग शेयर बाज़ार में एक मुस्त राशि एक बार में निवेश करते हैं जिसे lumpsum इन्वेस्टमेंट कहा जाता है  तो कुछ प्रत्येक महीने थोड़ी -थोड़ी राशि निवेश करते जाते हैं जिसे SIP इन्वेस्टमेंट कहा जाता है | आप अपनी सुविधा अनुसार कोई भी तरीका चुन सकते हैं |

कुछ लोगो का मानना है की जब आप के पास बहुत सारे पैसे होंगे आप तभी शेयर बाज़ार में निवेश कर पाएंगे परन्तु यह पूरी तरह से गलत है अब आप 500 रुपये की छोटी राशि से भी अपना निवेश शुरू कर सकते हैं अलग – अलग लोगो को अलग-अलग आय होती है परन्तु लोग अपनी जरूरतों को पूरी करने के बाद जो राशि राशि बच जाती है उसे निवेश कर देते हैं यह आप पर है आप अपनी आय कर 20 % या फिर 30 % निवेश करते हैं | अगर आप महीने का 4 – 5 रुपये भी बचा कर निवेश करते हैं तो लम्बे समय में यह आपको एक बहुत बड़ी रकम में परिवर्तित हो जायेगा |

निवेश के बारे में जानकारी कहा से प्राप्त करे ?

आज हम इंटरनेट की दुनिये में जी रहे हैं जहा पर किसी भी चीज के बार में जानकारी प्राप्त करना बहुत ही आसान हो गया है है इंटरनेट पर बहुत से अच्छे ब्लॉग हैं बहुत से अच्छे यूट्यूब चैनल बने हैं जहा से आप निवेश के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं इसके अलावे अगर आप किताबो के पढ़ने के शौकीन हैं तो निवेश से सम्बंधित बहुत सारी किताबे मौजूद हैं जिन्हे आप पढ़ कर निवेश के बार में ढेर सारा ज्ञान अर्जित कर सकते हैं |

निचे निवेश से सम्बंधित बहुत सारी बेहतरीन किताबो की जानकारी दी गयी है जिन्हे आपको अवश्य  पढ़ना  चाहिए |

अंग्रेजी में

The Intelligent Investor by Benjamin Graham

One up on wall street by Peter Lynch

Common stocks and uncommon profits by Philip Fisher

The Dhandho Investor by Mohnish Pabrai

The little book that beats the market by Joel Greenblatt

Flirting with Stocks: Stock Market Investing for Beginners- Anil Lamba

Money Master the game- Tony Robbins

Fundamental Analysis- Raghu Palat

Let’s Talk Money: You’ve Worked Hard for It, Now Make It Work for You

How to make money in stocks- William O Neil

How I made $2 Million in the Stock Market- Nicolas DarvisRich Dad’s Guide to Investing- Robert Kiyosaki

हिंदी रूपांतरण

इसके अलावे भी बहुत सारी अच्छी किताबे हैं जिन्हे आपको पढ़ना चाहिए जिनसे आपके अंदर आत्मविश्वास और सकारात्मक उर्जाये आयंगी और इन किताबो को पड़ने से आपको एक तरह की प्ररणाये मिलेंगी जो आपकी जिंदगी में परिवर्तन लाएगा इन किताबो की जानकारी आप यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं |

निवेश करने के लिए अपना Demat खाता और Trading खाता कहां खुलवाएं ? ()


निवेश करने के लिए आपको डिमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट की आवश्यकता होती है जिसे आप किसी भी ब्रोकर के यहां खुलवा सकते हैं तो हमारे सामने प्रश्न आता है कि हमें कौन सा ब्रोकर चुनना चाहिए ।

अपना स्टॉक ब्रोकर कैसे चुने ? (How to choose your stock broker)


भारतीय शेयर बाजार में दो तरह के स्टॉक ब्रोकर कार्यरत हैं –

  • फुल सर्विस ब्रोकर्स
  • डिस्काउंट ब्रोकर्स

फुल सर्विस ब्रोकर्स

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है फुल सर्विस ब्रोकर डिस्काउंट ब्रोकर की तुलना में अतिरिक्त सुविधाएं प्रदान करते हैं जैसे वे समय-समय पर अलग-अलग   शेयरों पर अपनी रिसर्च और  रिपोर्ट प्रकाशित करते हैं कौन से शेयर में कब निवेश करना है या नहीं इसकी सलाह देते हैं | अलग-अलग शहरों में इनकी शाखाएं होती हैं जहां पर जाकर आप निवेश सम्बंधित कई प्रकार की जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं | उनके पास अच्छा खासा सपोर्ट सिस्टम होता है जो किसी भी समय अपने क्लाइंट की   सहायता के लिए   तैयार रहते हैं । वे फॉरेक्स, म्यूच्यूअल फंड्स, आईपीओ, बांड्स  और इंश्योरेंस में निवेश करने की सुविधा देते हैं आमतौर पर ये डिस्काउंट ब्रोकर की तुलना में ज्यादा  ब्रोकरेज लेते हैं ।

कुछ फेमस फुल  सर्विस ब्रोकर हैं के नाम हैं icicidirect, sharekhan, kotak सिक्योरिटीज, HDFC सिक्योरिटीज, Motilal Oswal इत्यादि |

डिस्काउंट ब्रोकेर्क्स

कुछ समय पहले तक भारतीय शेयर बाज़ार में फुल सर्विस ब्रोकर्स का दबदबा था परन्तु डिस्काउंट ब्रोकर्स के आने के बाद लोगो ने डिस्काउंट ब्रोकर्स के पास तेजी से अपना demat खाता खुलवाना शुरु किया | डिस्काउंट ब्रोकर कम ब्रोकरेज (शेयर खरीदते समय ली जाने वाली रासी) लेते हैं | आमतौर पर डिस्काउंट ब्रोकर आपको एक demat अकाउंट के साथ एक अच्छा trading प्लेटफार्म देते हैं परन्तु ये फुल सर्विस ब्रोकर की तरह किसी भी प्रकार की रिसर्च रिपोर्ट या निवेश से सम्बंधित सलाह नहीं देते | आमतौर पर इनका एक main office होता है जहा से ये अपना सारा काम संचालित करते हैं आप इनसे ऑनलाइन ईमेल या फिर फ़ोन के द्वारा सहायता प्राप्त कर सकते हैं |

कुछ बेहद चर्चित डिस्काउंट ब्रोकर के नाम है जेरोधा (Zerodha), upstox, 5पैसा इत्यादि |

वर्तमान में जेरोधा के पास सबसे ज्यादा क्लाइंट हैं और दुसरे नंबर पर icicidirect का नाम आता है |

जेरोधा में अपना demat खाता खुलवाने के लिए आप निचे दिए लिंक पर जा सकते हैं |

जेरोधा के साथ अपना demat खाता खुलवाए

निवेश करने के लिए शेयर कैसे चुने

एक नए निवेशक के लिए यह बहुत ही मुस्किल होता है की कौन से शेयर में अपना पैसा लगाये | शुरुवात में आपको वैसे शेयर को चुनना चाहिए जिसके उत्पाद को आप अपनी रोजमर्रा की जिन्दगी में उपयोग करते हो | शुरुवात में हमेशा ऐसे शेयर को प्राथमिकता दे जिनके उत्पाद आप के आस पास हो |

उदाहरण के लिए अगर आपके पास दो पहिया वहां है तो आप बजाज या फिर Eicher Motor की Royal Enfield के बारे में सोच सकते हैं | अगर आप चार पहिये वाहनों को में देखे तो आप मारुती को देख सकते हैं , आप अगर सोन्दर्य से सम्बंदित उत्पाद देखे तो शैम्पू, साबुन, तेल , क्रीम, इत्यादि के लिए हिंदुस्तान उनिलेवर को देख सकते हैं , बर्तनों में इस्तेमाल होने वाले प्रेस्टीज कूकर को देख सकते हैं खाद्य पदार्थ में magi जिसका उपयोग घर- घर में होता हो उसकी बनाने वाली कंपनी नेस्ले इंडिया है , आप जो बिस्कुट का उपयोग करते है जैसे Parle, Goodday ये Britania कंपनी बनाती है | इसी प्रकार आपको सेकड़ो ऐसे प्रोडक्ट मिल जायेंगे उनको बनाने वाली पैरेंट कंपनी के बारे में पता करे , वो शेयर बाज़ार में लिस्टेड है या नहीं |

निवेश करने से पहले उस शेयर की कंपनी के बारे में पता करे वो किस तरह अपना काम काज कर रही है उसके उत्पाद बाज़ार में बिक रहे है या नहीं , कंपनी मुनाफा बना रही है या नहीं कंपनी पे कितना कर्जा है अगर कर्जा है तो कंपनी उसका भुगतान कर रही है या  नहीं , भविस्य में उस कंपनी के उत्पाद बाज़ार में रहेंगे या नहीं, आने वाले समय में कंपनी किस तरह परफोर्म करेगी इत्यादि |

इसलिए शुरुवात में आपको वैसी कंपनी में अपने पैसे लगाने चाहिए जिसकी आपको समझ हो |

शुरुवात में एक नए निवेशक वो वैसे कंपनियो को चुनना चाहिए जो कई सालो से अपना कारोबार कर रही हो और आगे भी उनसे अच्छा कारोबार करने की उम्मीद की जा रही हो |

एक बार आप कंपनियों के बारे में जानना शुरु करेंगे तो धीरे – धीरे आपको अलग – अलग क्षेत्रो के बारे में समझना शुरु कर देंगे |

कब आपको शेयर को बेचना चाहिए ?

जब आप किसी कंपनी में निवेशित हैं और कंपनी लगातार आपको अच्छा मुनाफा दे रही है तो आप उस कंपनी में निवेशित रहना पसंद करेंगे परन्तु अगर कुछ विषम परिस्थियों के चलते आपको पैसे को आवस्यकता हो तो आप अपने शेयर बेच सकते हैं |

अगर किसी कंपनी के फंडामेंटल बदल रहे हो और आपको लगे की वो कंपनी अब पहले की तरह नहीं चल पायेगी या भविष्य में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायेगी तो आप उस कंपनी के शेयर बेच सकते हैं |

जब आपको लगे की कोई दूसरी कंपनी जो आपको भविष्य में आपके द्वारा निवेशित पहली कंपनी से अच्छा मुनाफा दे सकती हो और सस्ती कीमत पर मिल रहा हो तो आप पहली कंपनी से दूसरी कंपनी में जा सकते हैं |

जब आपने किसी विशेष उदेश्य की पूर्ति के लिए निवेश शुरु किया हो (जैसे वहां खरीदना, घर खरीदना इत्यादि ) और आपके निवेश की अवधि पूरी हो गयी हो तो आप अपनी निवेश की हुई राशी निकल सकते हैं |

निवेश सम्बन्धी कुछ महत्वपूर्ण बाते :-

  • जब भी आप निवेश की शुरुवात करे आपना सारा पैसा एक साथ निवेश मत करे | एक नए निवेशक को शुरुवात में कम पैसे से निवेश शुरू करना चाहिए | शुरुवात में आप सिखने के लिए निवेश शुरू कर सकते हैं जैस- जैसे आप अनुभव प्राप्त करेंगे आप अपनी निवेश की राशि बढ़ा सकते हैं |

आपको कभी भी अपना सारा पैसा किसी एक शेयर या किस एक क्षेत्र के कंपनी में नहीं लगाना चाहिए | आपने अपनी लिस्ट में जो शेयर खरीद के रखे और वो अलग- अलग सेक्टर के होने चाहिए , इसे हम diversified Portfolio कहते हैं |

उदाहरण के लिए अगर किसी एक सेक्टर में मंदी आती हैं तो आपके portfolio में उसी सेक्टर के शेयर गिरेंगे बाकी के शेयर में कम या फिर नहीं के बराबर गिरावट आयगी |

  •   एक नए निवेशक को अपने शुरुवाती दिनों में वैसे कम्पनीयों में निवेश करना चाहिए जो काफी fundamentally काफी मजबूत हो और लम्बे समय से बाज़ार में कारोबार कर रही हो , ऐसे कंपनिया अपने सेक्टर की लीडर होती हैं | इन्हें bluechip स्टॉक भी कहा जाता है bluechip कंपनियों के बार में आप इस लेख (भारत की 10 बेहतरीन bluechip कंपनिया ) को पढ कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |
  • शेयर बाज़ार में जैसे ही आप demat खाता खुलवाते हैं अगले दिन से आपको advisory कंपनियों से फ़ोन कॉल आना शुरु हो जायेगा वो आपको लुभाने का प्रयास करेंगे और उनकी सर्विस लेने के लिए कहेंगे | ऐसे advisory कंपनियों के सलाह पर कभी निवेश न करे नहीं तो आपका पैसा डूब सकता है |

वैसे भी हमें दुसरो की सलाह पर निवेश नहीं करना चाहिए , अगर कोई मित्र आपको किसी शेयर की सलाह देता है तो पहले खुद से उस शेयर के बार में पूरी रिसर्च करे और वो शेयर आपको सही लगे तभी आपको उसमे निवेश करना चाहिए |

  • भारतीय शेयर बाज़ार में 5 हज़ार से ज्यादा कंपनिया लिस्टेड हैं जो अलग – अलग क्षेत्र में कारोबार करती हैं नए निवेशक को हमेशा ऐसे कंपनी को चुनना चाहिए जिसके बिज़नस की उन्हें समझ |

उदाहरण के लिए Bata एक जूता बनाने वाली कंपनी हैं एक निवेशक पता कर सकता हैं इस साल कंपनी ने कितने जूते बेचे , उसने कितना मुनाफा कमाया , उसके जूतों की बाज़ार में मांग है या नहीं , उसमे लगने वाले कच्चे माल की कीमत बढ़ी है या घटी है  इत्यादि वही पर अगर आप कोई केमिकल बनाने वाली कंपनी चुनते हैं तो आपको उनके बिज़नस के बारे में जानने में मुस्किल आयेगी |

  • शेयर बाज़ार में कभी भी रातो रात करोडपति बनने के मकसद से न आये | यहाँ आपको हमेशा योजनाबद्ध तरीके से निवेश करना हैं बैंक FD में 6%, ब्याज मिलता है म्यूच्यूअल फण्ड में एवरेज 12% , इसलिए आपको ऐसे शेयर को चुनना है जो उनसे ज्यादा मुनाफा दे तभी आपका पैसा लम्बी अवधि में एक अच्छा मुनाफा बनाकर देगा |
  • शेयर बाज़ार में लगातार निवेश करने की आदत डाले और हो सके तो प्रत्येक वर्ष निवेश की राशि को थोरा बहुत बढ़ाते चले कुछ सालो बाद आपको इसका फायदा नजर आने लगेगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *