Adani Wilmar share price target 2022, 2025, 2030 के लिए – Invest and Earn

Adani Wilmar share price target 2022, next week , short term, 2022, 2025, 2030, अडानी विल्मर मिल शेयर प्राइस टारगेट

अदानी विल्मर भारत में एक प्रमुख एफएमसीजी खाद्य कंपनी है जो भारतीय उपभोक्ताओं के लिए खाद्य तेल, गेहूं का आटा, चावल, दाल और चीनी सहित अधिकांश आवश्यक रसोई वस्तुओं की पेशकश करती है।  आज के इस पोस्ट में हम technical analysis और कंपनी के financials  के आधार पर पता करेंगे की आने वाले short term और long term में Adani Wilmar का share price कहा तक जा सकता है |

Adani Wilmar share price target 2022, 2025, 2030

Technical analysis के द्वारा किसी भी share का short term target निकालने के कई तरीके हैं परन्तु यहाँ हम moving average , stock chart reading और price based action से तय करेंगे कि Adani Wilmar  के share का next target क्या होगा ?

About Company ( कंपनी के बारे में)

अदानी विल्मर भारत में एक प्रमुख एफएमसीजी खाद्य कंपनी है जो भारतीय उपभोक्ताओं के लिए खाद्य तेल, गेहूं का आटा, चावल, दाल और चीनी सहित अधिकांश आवश्यक रसोई वस्तुओं की पेशकश करती है। इनके उत्पाद अलग- अलग ब्रांडो के तहत बाज़ार में उपलब्ध हैं , इनके पास अलग- अलग उत्पादों की एक लम्बी श्रृंखला है |

adani wilmar share price
Adani Wilmar

अडानी विल्मर की स्थापना 1999 में अडानी ग्रुप और विल्मर ग्रुप ने एक साझेदारी के रूप में की थी | विल्मर समूह, एशिया के प्रमुख कृषि व्यवसाय समूहों में से एक है।

Adani Wilmar share price target 2022 for Short term (छोटी अवधि के लिए)

Adani Wilmar Share Price History

8 फ़रवरी 2022 को अडानी विल्मर का शेयर लिस्ट होने के बाद 227 पर खुला था, 3 दिन बाद ही अडानी विल्मर के शेयर ने 420 का high लगा दिया, उसके कुछ दिन बाद शेयर में थोरी मुनाफावसूली भी हुई और शेयर अपने high से गिरकर 300 के लवेले तक पहुच गया | वर्तमान में अडानी विल्मर का शेयर अपने high 420 के आस-पास ट्रेड कर रहा है |

Adani Wilmar share price Support and resistance level

अगर चार्ट पर देखें तो अडानी विल्मर का शेयर पिछले एक महीने से एक रेंज में ट्रेड कर रहा है नीच यह शेयर 330 के लेवल पर सपोर्ट लेता है और ऊपर 420 के लेवल पर जाकर रेजिस्टेंस लेता है , और इस समय यह शेयर अपने रेंज के उपरी लेवल के पास ट्रेड कर रहा है | अगर शेयर इस रेंज से निकलता है और 420 के लगातार ट्रेड करना शुरू करता है तो यह शेयर short term में 480 से 500 के लेवल तक पहुच सकता है |  

Resistance

Adani Wilmar share के support के बात करें तो 320 से 340 का जोन इस शेयर के लिए एक अच्छा support जोन है अगर शेयर इस लेवल के निचे जाता है तभी इस शेयर में निचे जाने की संभावना बनेगी, जो शेयर को देख के नहीं लगता की इसमें अभी निचे जाने की कोई संभावना है |

इस लिए अगर हम Adani Wilmar share price target 2022 देखें तो इस साल के अंत तक यह शेयर 480-500 तक पहुच सकता है |

Adani Wilmar Company Operations (कंपनी का कामकाज)

कंपनी ने अपने उत्पाद को तीन श्रेणियों मे बाट रखा है: खाद्य तेल, पैकेज्ड फूड और एफएमसीजी |

Adani wilmar भारत की 10 सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है |

इनके उत्पाद 91 मिलियन घरो तक पहुचते हैं |

अडानी विल्मर के खाद्य तेल उत्पादों में सोयाबीन का तेल, ताड़ का तेल, सूरजमुखी का तेल, चावल की भूसी का तेल, सरसों का तेल, मूंगफली का तेल, बिनौला का तेल, मिश्रित तेल, वनस्पति और विशेष वसा शामिल हैं।

अडानी विल्मर भारत का नंबर 1 खाद्य तेल ब्रांड है।

अडानी विल्मर का कुल आय का 65% हिस्सा खाद्य तेल के सेगमेंट से आता है |

इनका खाद्य तेल फार्च्यून नाम के ब्रांड के अंतर्गत आता है जोकि इनका एक प्रमुख और अत्यधिक प्रचलित ब्रांड है इसके अलावे adani wilmar के King’s”, “Aadhar”, “Bullet”, “Raag”, “Alpha”, “Jubilee”, “Avsar”, “Golden Chef” and “Fryola” नामक ब्रांड से भी बहुत से उत्पाद प्रचलित हैं |

fortune ब्रांड
fortune ब्रांड

पैकेज्ड फूड और एफएमसीजी सेगमेंट से इनका 11% आय आता है | जिसके अंतर्गत ये गेहूं के आटे, चावल, बेसन और दालों जैसे विभिन्न उत्पादों को बेचते हैं |

COVID-19 महामारी के समय इन्होने “Alife” नाम से अपना साबुन , handwash और sanitizer भी बाज़ार में उतारा था |

इसके अलावे adani wilmar ओलेओकेमिकल्स, अरंडी का तेल, और इसके बने पदार्थ और डीओल्ड केक सहित उद्योग की आवश्यक वस्तुओं की एक विविध श्रेणी का उत्पादन करते हैं।

वे राजस्व के मामले में भारत में सबसे बड़े ओलियोकेमिकल निर्माताओं में से एक हैं, और भारत में स्टीयरिक एसिड और ग्लिसरीन के सबसे बड़े निर्माता हैं, जिनकी बाजार हिस्सेदारी क्रमशः 32% और 23% है।

Adani wilmar  company Manufacturing Facilities (विनिर्माण सुविधाएं)

30 सितंबर, 2021 तक कंपनी के भारत में 10 राज्यों में स्थित 22 संयंत्र है,  जिनमें 10 क्रशिंग यूनिट्स और 19 रिफाइनरी शामिल हैं, जिनकी कुल डिजाइन क्षमता क्रमशः 8,525 मीट्रिक टन और प्रतिदिन 16,285 मीट्रिक टन है।

मुंद्रा में रिफाइनरी भारत में सबसे बड़ी सिंगल-लोकेशन रिफाइनरी में से एक है, जिसकी डिजाइन क्षमता 5,000 मीट्रिक टन प्रति दिन है।

सितंबर 2021 तक इनके पास पुरे देश में 5,590 distributor थे जो 16 लाख से अधिक खुदरा दुकानों तक अपने उत्पाद पहुचाते थे |

सितंबर 2021 तक, Adani wilmar के भारत में 88 डिपो थे, जिसमें कुल भंडारण स्थान ~ 18 लाख वर्ग फुट था, और उनकी भारत की बिक्री और मार्केटिंग टीमों में 685 कर्मचारी थे।

Adani wilmar 50 से अधिक देशों में अपने ब्रांडेड खाद्य तेल उत्पादों, खाद्य पदार्थों, एफएमसीजी और उद्योग की आवश्यक वस्तुओं का निर्यात करती है। यह अरंडी तेल (castor oil) का सबसे बड़ा निर्यातक है और भारत में ओलेओकेमिकल्स के सबसे बड़े निर्यातकों में से एक है |

Adani Wilmar Share financials (वित्तीय आधार)

Adani wilmar  share price अपनी बुक वैल्यू के 17.77 गुना पर कारोबार कर रहा है |

हालांकि कंपनी बार-बार मुनाफे की रिपोर्ट कर रही है, लेकिन यह लाभांश (dividend) का भुगतान नहीं कर रही है |

कंपनी अपने प्रतियोगी कंपनियों की तुलना में 83.2 के PE पर काम कर रही है |

पिछले 3 वर्षों से Adani wilmar का ROE (Return on Equity) 20.53% है जो की अच्छा है ।

मार्च 2021 तक कंपनी का कुल रिज़र्व 2,952.43 करोड़ था |

मार्च 2021 तक कंपनी के ऊपर 1,024.09 करोड़ का क़र्ज़ था |

इसे भी पढ़ें – Ashok Leyland Share price target 2022, 2025, 2030 के लिए

Adani Wilmar share price target 2025 (मध्यम अवधि में) :-

भारतियों बाजारों में अडानी विल्मर की पकड़ खाद्य तेलों में है, इनका fortune ब्रांड काफी प्रचलित है और कंपनी इसमें लगातार प्रदर्शन कर रही है , और ऑपरेशनल फ्रंट पर भी कंपनी लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है, हालाकि कंपनी के वैल्यूएशन अपने प्रतियोगियों की तुलना में महंगे है, इसलिए अगर कंपनी के शेयर में गिरावट आये तो इसे खरीदने के बार में सोचा जा सकता है |

अगर मध्यम अवधि में Adani Wilmar share price target 2025 देखे तो यह शेयर 830 तक जा सकता है |

important key Points to grow a company (मुख्य बिंदु)  

किसी भी शेयर के लिए लम्बी अवधि का target निकलना पूरी तरह से कंपनी के फंडामेंटल्स पर निर्भर करती है |

  • यह इस बात पर निर्भर करती है की अगर कंपनी manufacturing में है तो उसकी sale साल दर साल घट रही है या बढ़ रही है |
  • कंपनी पर कितना क़र्ज़ है वह कम्पनी अपने क़र्ज़ को दे पा रही है या नहीं ?
  • कंपनी अपने पैसे पर काम कर रही है या पूरी तरह से पब्लिक और बैंक के पैसे पर काम कर रही है |
  • कम्पनी के पास कितना रिज़र्व है , साल दर साल कंपनी का रिज़र्व घट रहा है या बढ़ रहा है |
  • बाज़ार में कंपनी को अपने competitor से कितना कम्पटीशन मिल रहा है , इसके लिए कंपनी के पास भविष्य के लिए कोई प्लान है या नहीं |
  • भविष्य में बने रहने के लिए कंपनी समय – समय पर अपने नए प्रोडक्ट्स ला रही है या नहीं |
  • कंपनी मुनाफा कमा रही हैं या नहीं , अगर मुनाफा कमा रही है तो dividend दे रही है या नहीं |

·  कुछ कंपनियां शुरुवाती दौर में डिविडेंड न देकर उसे कंपनी के विस्तार में लगाती हैं |

  • इन सभी पैरामीटर के बाद भी कंपनी कितना मुनाफा कम रही है, और साल दर साल किस ratio से बढ़ रही है |

यह सभी कुछ अहम points हैं जिनके आधार पर कंपनी के long term टारगेट निकाले जाते हैं |

इन सब पैरामीटर को देखे तो Tata Motors Share Price Target 2025 में अच्छी growth मिल सकती है | क्योकि कंपनी के पास Electric Vehicle एक मजबूत सेगमेंट है काम करने के लिए, जो भविष्य में इस शेयर के लिए एक game changer साबित हो सकता है |

Adani Wilmar share price target 2030 (लम्बी अवधि में) :-  

Adani wilmar एक मजबूत प्रमोटर अडानी ग्रुप और wilmar ग्रुप की कंपनी है भारतीय बाज़ार में कंपनी का अभी तक का प्रदर्शन शानदार रहा है और आगे भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है तभी तो कंपनी के इतने महंगे वैल्यूएशन के बाद भी लोग इसमें खरीदारी कर रहे है | कंपनी पिछले 3 सालों से लगभग 20% ROE दे रही है |

इन सब को देखते हुवे अगर 2030 के लिए  Adani Wilmar share price target 2030 के लिए हो जायेगा 2000 , जिसे हमने 20% के सालाना growth के आधार पर निकाला है |

FAQ (अडानी विल्मर कंपनी से जुड़े प्रश्न -उत्तर)

अडानी विल्मर क्या है?

अडानी विल्मर भारत में एक प्रमुख एफएमसीजी खाद्य कंपनी है जो भारतीय उपभोक्ताओं के लिए खाद्य तेल, गेहूं का आटा, चावल, दाल और चीनी सहित अधिकांश आवश्यक रसोई वस्तुओं की पेशकश करती है। अडानी विल्मर की स्थापना 1999 में अडानी ग्रुप और विल्मर ग्रुप ने एक साझेदारी के रूप में की थी |

क्या अडानी विल्मर क़र्ज़ मुक्त कंपनी है?

नहीं , मार्च 2021 तक कंपनी के ऊपर 1,024.09 करोड़ का क़र्ज़ था |

अडाअडानी विल्मर के शेयर को कैसे खरीदें ?

इसके लिए आपके पास एक demat account होना चाहिए, demat account के लिए आप यहाँ जा सकते है open your demat account

Disclaimer : – इस शेयर पर यह हमारी निजी राय है जिसे हमने अपने analysis के आधार पर निकाला है, शेयर बाज़ार में निवेश करना जोखिम भरा हो सकता है, कृपया निवेश करने से पहले अपने वित्तीय सलाहकार की मदद अवस्य लें |

 इस लेख में प्रयोग हुवे इमेज पर हमारा कोई आधिकार नहीं है इसका  source: tradingview.com है |

Leave a Comment

Pin It on Pinterest

Stock market latest news : जाने-माने Fund Manager Nilesh Shah ने बताया गिरावट की मुख्य वजह Vijay Kedia latest news : इन लोगों ने शेयर बाज़ार को जुवारियों का अड्डा बना दिया Aether Industries IPO: मुख्य बाते जो आपको जानी चाहिए इस Crypto Currency ने डुबाये निवेशकों के 40 बिलियन रूपये, Crypto Currency में निवेश करना कितना सुरक्षित Grubhub free lunch: Free lunch for NYC office workers on 17th May , use the promo code