निवेश क्यों करना चाहिए ? (Why Investment is important)

why investment is important

इस पोस्ट में हम चर्चा करेंगे, आज के समय में हर किसी को निवेश क्यों करना चाहिए (Why Investment is important) ? दूसरा प्रश्न अपनी मेहनत की कमाई को कहा निवेश करे (Where to invest money) ? जिससे आपको लम्बी अवधि में अच्छा मुनाफा मिल सके |

आपने अक्सर अपने बुजुर्गों को कहते सुना होगा  की हमारे जमाने में चावल 1 रूपये में 1 (40 किलो ) और दूध 1 रूपये में 10 किलो (लीटर) मिलती थी और आज देखो कितनी महंगी हो गई है । फिर आप सोचेंगे कैसे हुआ, अचानक तो नहीं हुआ,  धीरे चीजों के दाम बढ़ते चले गए । और आज उन चीजों की कीमत   आसमान छू रहे हैं । इसे इन्फ्लेशन  इफेक्ट  (Inflation effect) कहते हैं ।

 इन्फ्लेशन (Inflation) के चलते  वस्तुओं के  दाम बढ़ते हैं और आपकी खरीदने की शक्ति कम होती जाती है यानी पैसे की वैल्यू (currency value) लगातार गिरती जाती है । उदाहरण के लिए अगर आप किसी चीज को 100 रूपये  में खरीद रहे हैं,  तो दो-तीन साल बाद उस चीज को 100 रूपये में नहीं खरीद पाएंगे । क्योंकि इन्फ्लेशन के कारण उस चीज की कीमत आपको बढ़ी हुई मिलेगी यानी इन्फ्लेशन के कारण आपके खरीदने की शक्ति कम हो गई है । इसलिए आपके पास जो 100 रूपये है उसके वैल्यू भविष्य में मिलने वाले 100 रूपये से ज्यादा है  ।

इसलिए अगर आप अपनी  बचत की कमाई को घर में ही रखेंगे तो लगातार उसकी वैल्यू कम होती चली जाएगी, अगर आपके बुजुर्गों ने 40 साल पहले आपके घर में 100 रूपये रखे रहते तो उसकी  वैल्यू आज क्या होती अब बेहतर समझ सकते हैं   ।

निवेश क्यों करना चाहिए ? (Why Investment in important)

 आज के 100 रूपये की वैल्यू 40- 50 साल पहले के 100  रुपए से कई गुना कम है  । इसलिए आपको अपने पैसे  को ऐसी जगह निवेश करना होगा जहां पर सभी टैक्सेस और चार्जेस (taxes and charges) देने के बाद भी  सालाना,  आपको  इन्फ्लेशन रेट से ज्यादा मुनाफा (return) मिले । उदाहरण के लिए अगर इन्फ्लेशन रेट 4% है तो आपको अपने निवेश पर  कम से कम 4-5 %  रिटर्न तो मिलना ही चाहिए । अगर आपके रिटर्न से आपको 4%  मिलता है तो वह ब्रेक इवन (breakeven) माना जाएगा मतलब आपको ना घाटा हो रहा है ना ही आपको फायदा हो रहा है । क्योंकि इन्फ्लेशन रेट 4% है ।

 वहीं अगर आपको 4% से कम रिटर्न मिल रहा है तो आप अप्रत्यक्ष रूप से (indirectly) घाटे में  हो । इन्फ्लेशन रेट के ऊपर आपको जो भी रिटर्न मिलेगा वह सही मायने में आपका मुनाफा होगा । इसलिए आपको अपना पैसा ऐसी जगह निवेश करना चाहिए जहां पर इन्फ्लेशन रेट को काटकर भी आपको अच्छा रिटर्न मिले ।

 अपने निवेश से अच्छा रिटर्न पाने के लिए आप इन इन्वेस्टमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (Investment instruments) में निवेश कर सकते हैं जैसे  रियल स्टेट (Real estate), शेयर बाजार (stcok market),  एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (exchange traded fund) और म्यूचुअल फंड (Mutual Fund)   इत्यादि ।

लेकिन इन इंस्ट्रूमेंट के रिटर्न निश्चित (fixed) नहीं होते इसलिए आपको इनमें निवेश करने से पहले अच्छी तरह से जांच – पड़ताल (research) करना होगा । उदाहरण के लिए अगर आपको स्टॉक मार्केट में निवेश करना है तो आपको कंपनी (जिसमे आप निवेश करने वाले हैं) उसके फंडामेंटल्स (fundamentals),   इंडस्ट्री (कंपनी कौन से क्षेत्र से है) और इकोनामी  (Economy) इत्यादि के बारे में विस्तार से   विश्लेषण (analysis) करना पड़ेगा । इसके अलावा आपको  कंपनी के बारे में अच्छी और बुरी बाते  (pros and cons) और रिस्क और रिवॉर्ड  (Risk and Reward) देखने पड़ेंगे । 

 इन्फ्लेशन को  पीछे छोड़कर (beat करने के लिए) और कम समय में अच्छा रिटर्न (return)  लाने के चक्कर में लोग किसी ऐरे -गैरे स्कीम में निवेश करना शुरू कर देते हैं जो  जो कम समय में अच्छा रिटर्न या फिर पैसे को डबल करने का झांसा देते हैं |

 हम देखते हैं कि हमारे आजू-बाजू में ऐसी बहुत सारी स्कीम (schemes) चल रही होती हैं भारत में ऐसी बहुत सारी   फ्रॉड स्कीम (Ponzi schemes ) आती -जाती रहती हैं और  और लोग इन  में  अच्छा  धन कमाने के चक्कर में फस जाते हैं । अगर आपके पास ऐसी कोई स्कीम आती है जो अच्छा रिटर्न या फिर पैसे डबल करने का  वादा करती है तो पहले चेक कीजिए   वह  क़ानूनी तौर पर (legal) है भी या नहीं और इतना ज्यादा रिटर्न वह कैसे दे पा रही है ? इसलिए आपको ऐसे पोंजी स्कीम (Ponzi schemes) से दूर ही रहना चाहिए  ।

यह पोस्ट आपको कैसा लगा निचे दिए कमेंट सेक्शन में अपने सुझाव अवश्य व्यक्त करे |

Leave a Reply

*

Pin It on Pinterest